Natural Care Of Diabetes

मधुमेह संबंधित कुछ आवश्यक तथ्य



 मोटापा भी डायबिटीज के खतरें को बढ़ाने का एक कारण हो सकता है. लेकिन, सिर्फ मोटापा ही नहीं डायबिटीज के कई कारण हो सकते हैं। मधुमेह एक बदलतती जीवनशैली या लाइफस्टाइल से होने वाली बीमारी है। हाल के दिनों में, तनाव, अनिमितताओं पूर्ण जीवन शैली, खराब खानपान की आदतों। सामाजिक और तमाम मनोवैज्ञानिक कारक भी मधुमेह के जोखिम को बढ़ाने के लिए भी जिम्मेदार हैं।

  मधुमेह या डायबिटीज में ऐसा आहार लेना चाहिए जो संतुलित हो। इसमें बहुत ही नि‍यंत्रि‍त रूप से चीनी भी शामिल हो सकती है। असल में, मधुमेह में परिष्कृत चीनी, जैसे गुड़, पाल्म शुगर, नारियल चीनी, कच्चा शहद वगैरह अपने चिकित्सक के परामर्श के अनुसार ले सकते हैं।

 डायबिटीज के कारणों में जीन भी एक कारण हो सकता है. लेक‍िन इसके अलावा भी बहुत से कारण हैं जो डायबि‍टीज का कारण होते हैं ।मधुमेह वायरस, वंशानुगत, तनाव, खराब खाने की आदतो, आरामतलब जीवन शैली और अन्य बाहरी कारकों से भी हो सकता है।

 फलों में प्राकृतिक मिठास होती है साथ ही कार्बोहाइड्रेट भी होते हैं जो ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाने का काम कर सकते हैं। जब आप फल खा रहे हों तब भी शुगर लेवल की जांच करें। फल में विटामिन और खनिज के साथ फाइबर सामग्री होती है, जिनमें से सभी को मधुमेह का कंट्रोल करने के लिए कहा जाता है।इसलिए फल खाएं ज़रूर लेकिन सीमिति मात्रा में।

 ज्यादातर लोग मधुमेह हो जाने पर शुगर फ्री प्रोडक्टस का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि उन्हें सलाह दी जाती है। लेकिन इनको खरीदते समय इनका पोषण लेबल पढ़ना ज़रूर याद रखें । ये खाद्य पदार्थ भले ही स्वस्थ हों, लेकिन वे कैलोरी, कार्बोस, चीनी और वसा से भरपूर होते हैं। जब स्वस्थ खाने की बात आती है तो घर का बना खाना सबसे अच्छा विकल्प होता है।

         

Author: admin

A team work for healthy nature & healthy life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *