Home Remedies to Turn White Hair Black without Chemical Dyes

सफेद बाल काले करने का आयुर्वेदिक उपाय

आजकल एक गंभीर समस्या जन्म ले रही है वो है बालों का सफ़ेद होना, जो अब एक नार्मल बात हो चुकी है, अगर आपके कुछ बाल सफ़ेद हो गए तो आप उनको काला करने के लिए केमिकल युक्त डाई का उपयोग करेंगे जो की बालो के लिए नुक़सान दायक होती है।

जिसके प्रभाव से बचे हुए काले बाल भी सफ़ेद हो जाते है और झड़ने लगते है। आपको अब हर बार डाई करने पर विवस होना पड़ेगा क्योंकि आपके सफ़ेद बाल आपकी सुंदरता पर सफ़ेद ग्रहण लगा देते है, ऐसे में आयर्वेद आपकी मदद कर सकता है, आपके काले व घने बालों के लिये आवँले का पाउडर और निम्बू सबसे अच्छा रहेगा। क्योंकि यह सफ़ेद बाल को सिर्फ काला करेंगे वरन् उनको मजबूत और बाकी बाल को सफ़ेद होने से बचाएंगे।

बढ़ते पॉल्यूशन, बढ़ती टेंशन, और भोजन में ज़रूरी मिनरल्स की कमी के कारण आज कल असमय ही बाल सफ़ेद हो रहे हैं। असमय हुए सफ़ेद बालो को काला करने के लिए ये नुस्खे रामबाण सिद्ध हो सकते हैं। जैसा कि आप जानते हैं, बालों का सफेद होना जेनेटिक होता है। और उम्र के साथ हमारे बाल पकने लगते हैं। लेकिन आजकल यह समस्या कम उम्र में ही होने लग जाती है, जिसके कारण होते हैं, बालों की सही देखभाल नहीं करना, प्रदूषण और शरीर में पोषक तत्वों की कमी।

बालों को डाई करने से भी बाल जल्दी सफेद होने लगते हैं। अतः बालों को काला करने के लिए हमेशा प्राकृतिक नुस्खों का ही उपयोग करना चाहिए।


पहले हम जानते है बाल सफेद होने का कारण
बाल सफ़ेद होने के कई कारण है जैसे खूब ज्यादा तनाव लेना, सही पोषण ना मिलना, बहुत ज्यादा जंक फूड खाना, बहुत ज्यादा साबुन, शैंपू और तेल का प्रयोग करना। कुल मिलाकर हमारा मॉडर्न लाइफस्टाइल ही इसके लिए जिम्मेदार है।

आवश्यक सामग्री
100 ग्राम त्रिफला

100 ग्राम देसी गुड़

बनाने और सेवन करने की विधि
100 ग्राम त्रिफला चूर्ण कपड़छान कर लीजिये, अब इस त्रिफला में इतना। देसी गुड मिला लीजिये के इसकी गोलियां बन जाए। इसकी बड़ी बड़ी गोलिया बना लीजिये। रोज़ सुबह बासी मुंह एक गोली चबाकर खा ले। कुछ ही दिनों में सफ़ेद की जगह काले बाल आने शुरू हो जायेंगे।

प्राकृतिक डाई – आवश्यक सामग्री

नींबू,

साफ पानी।

बनाने की विधि

नींबू के रस में, 2 चम्मच पानी और 4 चम्मच आँवला पाउडर मिला कर पेस्ट बनाइये। 1 घंटे के लिये रख दें और फिर प्रयोग करें।

प्रयोग करने का तरिका

इस पेस्ट को 20-25 मिनट के लिये बालों और जड़ों में लगाएं और फिर सिर धो लें, लेकिन उस दिन शैंपू का प्रयोग ना करें।

कृपया ध्यान रखे

बालों को धोते वक्त ध्यान रखें कि यह आपकी आंखों में ना जाए। इस पेस्ट को हफ्ते में हर चौथे दिन प्रयोग करें। ऐसा करने से आपके सारे सफेद बाल एक ही महीने में काले होने लगेगें। अगर हो सके तो, आयुर्वेदिक तेल, शैंपू और साबुन का ही प्रयोग करें। बालों के लिये असली आँवले का तेल प्रयोग करें।

सफेद बाल काले करने के लिए आंवले के 13 अन्य रामबाण घरेलू उपाय
आंवले के छोटे छोटे टुकड़े कर इन्हे छाया में सुखाइये। अब इन्हे नारियल के तेल में तब तक उबालिये, जब तक के आंवले काले और कठोर ना हो जाए। यह तेल बालो की सफेदी को रोकने के लिए बहुत उपयोगी हैं।

एक बड़ा चम्मच आंवले का रस, एक चम्मच बादाम का तेल या कुछ बूंदे निम्बू का रस मिलाकर हर रात बालो में अच्छी तरह मालिश करे। यह बालो की सफेदी रोकने का अच्छा उपचार हैं।

100 ग्राम सूखे आंवले को लोहे के बर्तन में चार दिन तक भिगोये। फिर इसे पीस कर गाढ़ा पेस्ट बनाये। ब्रश से भली भाँती बालो में लगाए। दो घंटे बाद सिर को धो लीजिये। कुछ दिनों में बाल काले होने शुरू हो जायेंगे।

असमय हुए सफ़ेद बालो के उपचार के लिए लोहे के बर्तन में रात भर आंवला चूर्ण भिगोये रखे। सुबह उसमे बकरी का दूध और निम्बू का रस मिलकर नियमित बालो पर लगाये।

आंवले को चुकंदर के रस में पीस कर सिर में लगाने से बाल झड़ने बंद होकर गहरे व् काले होने लगते हैं। दो माह तक ये प्रयोग करे।

एक किलो आंवले का रस, एक किलो देशी घी, 250 ग्राम मुलहठी। इन तीनो को हलकी आंच पर पकाये। जब पानी सूख जाए और तेल बच जाए तो उसे छानकर बोतल में भर ले। अब इसे खिजाब की तरह लगाये, कुछ ही दिनों में सारे बाल काले हो जायेंगे।

आंवले के चूर्ण का लेप बनाएं। उसे रोजाना सुबह सिर के बालों में अच्छी तरह लगा लें। साबुन का प्रयोग न करें। इस प्रयोग से सफेद बाल काले हो जायेंगे।

बालों के सफेद होने और चेहरे की रौनक नष्ट हो जाने पर 1 चम्मच आंवले के चूर्ण को दो घूंट पानी के साथ सोते समय प्रयोग करें। इससें पूर्ण लाभ होता है और साथ ही आवाज मधुर और शुद्ध होती है।

सूखे आंवले के चूर्ण को पानी के साथ मिलाकर सिर पर लगाने के बाद बाल को अच्छी तरह धोने से सफेद बाल गिरना बंद हो जायेंगे। सप्ताह में 2 बार नहाने से पहले इसका प्रयोग करें। अपनी आवश्यकतानुसार करीब 3 महीने तक इसका प्रयोग कर सकते हैं।

25 ग्राम सूखे आंवले को यवकूट (मोटा-मोटा कूटकर) कर उसके टुकड़े को 250 मिलीलीटर पानी में रात को भिगो दें। सुबह फूले आंवले को कड़े हाथ से मसलकर सारा जल पतले स्वच्छ कपड़े से छान लें। अब इस छाने हुए पानी को बालों की जड़ों में हल्के-हल्के अच्छी तरह से लगाएं और 10-20 मिनट बाद बालों की जड़ को अच्छी तरह धो लें। रूखे बालों को 1 बार और चिकने बालों को सप्ताह में दो बार धोना चाहिए। आवश्यकता हो तो और भी धोया जा सकता है। जिस दिन बाल धोने हो, उसके एक दिन पहले रात में आंवले के तेल का अच्छी तरह से बालों पर मालिश करें।

सूखे आंवले 30 ग्राम, बहेड़ा 10 ग्राम, आम की गुठली की गिरी 50 ग्राम और लौह चूर्ण 10 ग्राम, रात भर कढाई में भिगोकर रखें। बालों पर इसका रोजाना लेप करने से छोटी आयु में सफेद हुए बाल कुछ ही दिनों में काले पड़ जाते हैं।

आंवले, रीठा, शिकाकाई तीनों का काढ़ा बनाकर सिर धोने से बाल मुलायम, घने और लम्बे होते हैं।

आंवले और आम की गुठली की मज्जा को साथ पीसकर सिर में लगाने से मजबूत लंबे केश पैदा होते हैं।

Author: admin

A team work for healthy nature & healthy life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *