58-शहतूत खाने के औषधीय लाभ

शहतूत एक स्वाद से भरा व पौष्टिक फल है. शहतूत की मुख्य 3 किस्में हैं, सफेद शहतूत, लाल शहतूत और काला शहतूत। शहतूत का फल जितना रसीला और मीठा होता है, उतनी ही ज्यादा मात्रा में इस में एंटीआक्सीडेंट पाया जाता है। गरमी के मौसम में शरीर को ज्यादा पानी की जरूरत होती है और इस के सेवन से पानी की कमी को दूर किया जा सकता है। शहतूत में पोटैशियम, विटामिन ए और फॉस्फोरस प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। आज हम आपको इसके 5 आश्‍यर्चजनक फायदों के बारे में बता रहें, जो आपके लिए जरूरी है।

.1. सनस्‍ट्रोक से बचाव

रस से भरे शहतूत सनस्‍ट्रोक से बचाते हैं, एक्‍सपर्ट भी गर्मी के दिनों में शहतूत के रस में चीनी मिलाकर पीने की सलाह देते हैं। क्‍योंकि शहतूत की तासीर ठंडी होती है|

2.आंखों के लिए

औषधीय गुणों से भरपूर शहतूत का सेवन करने वाले व्‍यक्तियों की आंखों की रोशनी हमेशा तेज रहती है। इसका शरबत बनाकर पीने से कैंसर जैसी बीमारी दूर रहती है।

3.दिल का रखे ख्‍याल

शहतूत दिल के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। शहतूत का रस पीने से ह्रदय स्‍वस्‍थ रहता है, कोलेस्‍ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है।

  1. छाले छाले और गल ग्रन्थिशोध में शहतूत का शर्बत 1 चम्मच 1 कप पानी में मिला कर गरारे करने से लाभ होता है।
  2. पित्तविकार पित्त और रक्त-विकार को दूर करने के लिए गर्मी के समय दोपहर मे शहतूत खाने चाहिए।
  3. दाद, खुजली

शहतूत के पत्ते पीसकर लेप करने से लाभ होता है।

  • पेशाब का रंग बदलना

पेशाब का रंग पीला हो तो शहतूत के रस में चीनी मिलाकर पीने से रंग साफ हो जाता है।

  • लू, गर्मी

गर्मियों में लू से बचने के लिये रोज शहतूत का सेवन करना चाहिए। इससे पेट, गुर्दे और पेशाब की जलन भी दूर होती है। ऑंतों के घाव और लीवर रोग ठीक होते हैं साथ ही रोज सेवन करने से सिर को मजबूती मिलती है।

Author: admin

A team work for healthy nature & healthy life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *