24-गर्भावस्था में चुंकदर के औषधीय लाभ

गर्भावस्था में चुंकदर की चाय पीने से मां और बच्चे दोनों को ही बेहद लाभ प्राप्त होता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

गर्भावस्था में अगर आपको बीपी आदि की परेशानी होती है तो अपनी डाइट में चकुंदर की चाय या जूस अवश्य शामिल करें। लाभ होगा।

आयरन से भरपूर चुकंदर शरीर में खून की कमी नहीं होने देता। गर्भावस्था में खून की कमी बच्चे के विकास पर व्यापक असर डालती है। रोजाना एक गिलास चुकंदर चाय जरूर पीएं।

गर्भावस्था में हाथ-पैरों और जोड़ों में दर्द होना आम बात है। ऐसे में भी चुकंदर की चाय लाभकारी है। यह शरीर में कैल्शियम की कमी नहीं होने देती और हड्डियों को मजबूती देती है।

गर्भावस्था में फाॅलिक एसिड महिला के लिए बेहद आवश्यक होता है। चुकंदर के सेवन से वह तो मिलता है ही, साथ ही यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है।

गर्भावस्था में चुंकदर की चाय पीने से मां और बच्चे दोनों को ही बेहद लाभ प्राप्त होता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

गर्भावस्था में अगर आपको बीपी आदि की परेशानी होती है तो अपनी डाइट में चकुंदर की चाय या जूस अवश्य शामिल करें। लाभ होगा।

आयरन से भरपूर चुकंदर शरीर में खून की कमी नहीं होने देता। गर्भावस्था में खून की कमी बच्चे के विकास पर व्यापक असर डालती है। रोजाना एक गिलास चुकंदर चाय जरूर पीएं।

गर्भावस्था में हाथ-पैरों और जोड़ों में दर्द होना आम बात है। ऐसे में भी चुकंदर की चाय लाभकारी है। यह शरीर में कैल्शियम की कमी नहीं होने देती और हड्डियों को मजबूती देती है।

गर्भावस्था में फाॅलिक एसिड महिला के लिए बेहद आवश्यक होता है। चुकंदर के सेवन से वह तो मिलता है ही, साथ ही यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है।

Author: admin

A team work for healthy nature & healthy life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *